23 June 2024

जानिए क्या है बिल्डर साहनी सुसाइड मामला… गिरफ्तार हुए साउथ अफ्रीका के फेमस गुप्ता बन्धु

दी ग्लोबल टाइम्स न्यूज/ देहरादून: राजधानी के नामचीन बिल्डर बाबा साहनी सुसाइड मामले में दक्षिण अफ़्रीका के उद्योगपति गुप्ता बंधु को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है। अनिल गुप्ता और अजय गुप्ता के ख़िलाफ़ नामज़द मुक़दमे के बाद पुलिस ने गिरफ़्तार कर पूछताछ शुरू की।गुप्ता बंधुओं पर आरोप था कि इन्होंने पहले साहनी के साथ पार्टनरशिप की और अब धमकी दे रहे थे। बताया जा रहा है कि साहनी के कई प्रोजेक्ट रुक गये थे। इससे उनके पार्टनर्स में भी विवाद चल रहा था।

बताते चलें दून में साहनी के साथ दो रियल एस्टेट प्रोजेक्ट पर काम कर रहे थे। बेटे रणवीर का आरोप है कि उसके पिता को कंपनी छोड़ने के लिए ब्लैकमेल किया जा रहा था. इधर एसएसपी देहरादूनअजय सिंह ने बताया कि बिल्डर आत्महत्या मामले में सुसाइट नोट के आधार पर दो लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस जांच कर रही है, अन्य किसी की भूमिका सामने आती है तो उसके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई होगी।

जानिये क्या है पूरा मामला –

शुक्रवार को थाना राजपुर को कंट्रोल रूम के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई कि पेसेफिक गोल्फ स्टेट की बिल्डिंग के पास एक व्यक्ति घायल अवस्था में बेहोशी की हालत में पडा है। उक्त सूचना पर थानाध्यक्ष राजपुर, चौकी प्रभारी आईटी पार्क मय पुलिस बल के घटना स्थल पर पहुंचे। मौके पर जानकारी करने पर उक्त व्यक्ति की पहचान सतेन्द्र सिंह साहनी निवासी: 119 डी रेसकोर्स देहरादून, जो बिल्डर का कार्य करते हैं, के रूप में हुई। जिनके द्वारा गोल्फ स्टेट बिल्डिंग के आठवें माले से कूदकर आत्महत्या का प्रयास किया गया था, जिन्हें उनके पुत्र द्वारा उपचार के लिये मैक्स हास्पिटल ले जाया गया था, जहां उपचार के दौरान डाक्टरों द्वारा उक्त व्यक्ति को मृत घोषित किया गया। घटना के सम्बन्ध में मृतक के पुत्र रणवीर सिंह साहनी द्वारा थाना राजपुर पर लिखित तहरीर व मृतक द्वारा लिखा गया सुसाईड नोट दिया गया, जिसमें उसके द्वारा अजय कुमार गुप्ता पुत्र शिव गुप्ता व अनिल कुमार गुप्ता पुत्र श्याम लाल गुप्ता के द्वारा उनके पिता सतेन्द्र सिंह साहनी को डराने, धमकाने व ब्लैक मेल करने के तथ्य अंकित किये गए, साथ ही इस सम्बन्ध में उनके पिता द्वारा एक शिकायती प्रार्थना पत्र पुलिस को दिये जाने की बात बताई गई, जिस पर वर्तमान में पुलिस अधीक्षक नगर द्वारा जांच की जा रही है।

इसके अतिरिक्त अजय कुमार गुप्ता व अनिल कुमार गुप्ता द्वारा उनके पिता के विरूद्ध झूठी शिकायत सहारनपुर पुलिस को देकर उनकी दोनो कम्पनियां उनके नाम पर करने अन्यथा उन्हें व उनके दामाद को झूठे केस में जेल भेजने की लगातार धमकी देते हुए आत्महत्या करने के लिये उत्प्रेरित किया जा रहा था। उक्त प्रार्थना पत्र व सुसाईड नोट के आधार पर तत्काल थाना राजपुर पर मु0अ0सं0: 119/24 धारा: 306 भादवि बनाम अनिल कुमार गुप्ता व अजय कुमार गुप्ता पंजीकृत किया गया। उक्त अभियोग की विवेचना में साक्ष्य संकलन व बयानों के आधार पर अभियुक्त अनिल कुमार गुप्ता व अजय कुमार गुप्ता को अन्तर्गत धारा: 306 भादवि में गिरफ्तार किया गया।

क्या है गुप्ता बन्धुओं पर आरोप, इस लिये हुए गिरफ्तार – 

देहरादून के रेसकोर्स निवासी सतेंद्र उर्फ बाबा साहनी बिल्डिंग निर्माण का काम करता था। शुक्रवार को वह घर से निकलकर सहस्रधारा रोड स्थित पैसेफिक गोल्फ स्टेट में बेटी के फ्लैट पर पहुंचे। दोपहरकरीब 12 बजे साहनी ने 8वीं मंजिल से छलांग लगा दी। उनके जमीन पर गिरते ही आसपास के लोग इकट्ठा हो गए। लोगो ने पुलिस को सूचना दी और उनको अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने साहनी को मृत घोषित कर दिया। मृतक बिल्डर बाबा साहनी की जेब से सुसाइड नोट मिला जिसमे चर्चित गुप्ता बंधुओं अजय कुमार गुप्ता और उनके जीजा अनिल कुमार गुप्ता प्रोजेक्ट में हिस्सेदारी छोड़ने के लिए पीड़ित को ब्लैकमेल कर रहे की बात मेंशन थी। गुप्ता बंधु सहारनपुर के सदर बाजार थाना क्षेत्र स्थित मिशन कपाउंड निवासी हैं और दून में डालनवाला में रहते हैं। पुलिस ने सतेंद्र साहनी के बेटे रणबीर की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर दोनों को डालनवाला स्थित घर से गिरफ्तार कर लिया।